Natural Treatment of Constipation (कब्ज एक बीमारियां अनेक)

baby care

आज मनुष्य ने अपनी दिनचर्या को खराब करके और गलत खान पान के सेवन से अपनी पाचन  प्रणाली को खराब कर दिया है जिसकी वजह से आज छोटा बच्चा भी पेट की बीमारियों  से ग्रसित पाया जाता है।आयुर्वेद के अनुसार शरीर के अंदर सबसे ज्यादा बीमारियां आपके पाचन तंत्र के खराब होने की वजह से आती हैं जैसे कि सीने  में दर्द ,खाना हजम ना होना ,बार बार सिर दर्द होना ,तनाव ,थकान और हमेशा चिड़चिड़ा रहना आदि ये सभी बीमारियां सिर्फ  कब्ज की वजह से होती हैं । बहुत सारे लोग कब्ज से छुटकारा पाने के लिए दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं परन्तु ये दवाईयां उनके गुर्दों को कितना नुकसान पहुंचा रही हैं उनको कोई अंदाजा नहीं है। कब्ज का सबसे बड़ा कारण आपका भोजन के बाद एकदम से बैठ जाना और रात्रि  भोजन के बाद एकदम से लेट जाना जैसी गलत आदतें हैं।कब्ज को दूर करने के कुछ उपाय यहाँ बताए गए हैं ।

Ancient Reference
Ancient Reference

व्याख्या –  इस श्लोक में मल के रोकने से होने वाले दुष्परिणाम बताए गए हैं इस श्लोक में कहा गया है कि मल के रोकने से पेट में पीड़ा युक्त गुड़गुड़ शब्द ,पकाश्य में शूल ,गुदा में कतरने के समान वेदना ,मलावरोध ,डकारों का आना अथवा मुखमार्ग से मल का निकलना ये लक्षण होते हैं ।

संदर्भ- भावप्रकाश (चिकित्सास्थान) चैप्टर -३१ ,श्लोक -४ ।

कब्ज एक बीमारियां अनेक
Natural Treatment of Constipation

आइये जानते हैं उन उपायों और उनके गुणों के बारे में

1. गुनगुने  पानी में नींबू डाल कर पीएं  

अपने पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के लिए आपको सुबह उठकर गुनगुने पानी के अंदर नीबू का रस और सेंधा  का नमक मिश्रण करके सेवन करने से आपको पेट की कोई भी समस्या नहीं होगी और आपकी पाचन क्रिया भी अच्छी बनी रहेगी।इसलिए अपने शरीर से हानिकारक तत्त्वों को बाहर  निकालने  के लिए और पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के लिए गुनगुने पानी का ही सेवन करना लाभदायक माना गया है ।

2. मधु भी है काफी उपयोगी

पेट की सबसे बड़ी समस्या कब्ज के लिए मधु बहुत उपयोगी माना गया  है ।अगर आपको कब्ज बहुत ज्यादा परेशान कर रहा है तो इसके लिए आपको रात्रि  के समय सोने से ३० मिनट पहले एक चम्मच मधु को एक गिलास गुनगुने पानी में डाल कर लेने से आपकी समस्या जल्दी ठीक हो जाएगी।अगर आप इस प्रयोग का रोजाना सेवन करते हैं तो आपको पाचन तंत्र से संबंधित कोई बीमारी तंग नहीं करेगी ।

3. अरंडी का तेल महत्वपूर्ण प्रयोग

अरंडी का तेल कब्ज के लिए बहुत लाभकारी साबित हो सकता है इसके सेवन के लिए आपको रात्रि के समय देसी गाय के दूध को गुनगुना करके उसके अंदर अरंडी का तेल डालकर पीने से आपकी कब्ज की परेशानी बहुत जल्दी ठीक हो जाएगी।इसका नियमित सेवन आपके पेट को साफ रखता है ।

4. त्रिफला बहुत लाभकारी औषधि

त्रिफला के गुणों के बारे में तो सभी को पता है इस औषधि को पेट की समस्याओं के लिए रामबाण माना जाता है। कब्ज की समस्या से ग्रसित व्यक्ति को रात्रि के समय सोने से १ घण्टा पहले १ गिलास गुनगुने पानी में डालकर लेना चाहिए। यह प्रयोग कब्ज को दूर करने के साथ साथ आपके पेट में गैस बनने की परेशानी को भी खत्म कर देता है । त्रिफला  का उपयोग पेट के लिए काफी फायदेमंद होता है ।

5. भोजन में करें लहसुन का इस्तेमाल

अगर आप भोजन में लहसुन का इस्तेमाल नहीं करते तो  प्रयोग करना शुरू कर दें ।लहसुन की तासीर गरम होती है इसका सेवन आपको मल त्याग करने में कोई परेशानी नहीं होने देता और आंतों को भी कोई समस्या नहीं होती।भोजन में लहसुन का नियमित सेवन से आपके  गुर्दों में सोजिश नहीं  होती ।अगर आप लहसुन की कलियों का सुबह सुबह खाली पेट सेवन करते हैं तो आपका शरीर अंदर से मजबूत होता है और आपकी आंतें रोगों से मुक्त रहती हैं। कब्ज के रोगियों के लिए यह उपयोग काफी फायदेमंद है।

6. दही का उपयोग भी असरदार

आपके शरीर को स्वस्थ रहने के लिए कुछ आवश्यक तत्त्व और बैक्टीरिया की जरूरत पड़ती है ये सभी गुण देसी गाय के दूध से बनी दही में होते हैं जो आपकी पाचन प्रणाली को दुरुस्त रखते हैं | रात्रि के समय दही का सेवन वर्जित है इसलिए मध्यकाल में सेवन करना ही फायदेमंद माना गया है।अगर आप मध्यकाल में दही का सेवन करते हो तो आपका पेट भी साफ रहेगा इसके साथ साथ कब्ज ,गैस और खाना हजम ना हो पाना जैसी समस्याओं से भी सुरक्षित रहेगा

7. मेथी दाना भी है उपाय

कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए मेथी दाने का प्रयोग भी फायदेमंद माना गया है।  अगर आप रात्रि के समय सोने से १ घण्टा पहले मेथी दाने का चूर्ण हल्के गरम पानी के साथ सेवन करते हैं तो आपको पेट की समस्याओं में बहुत फायदा मिलता है।इस प्रयोग का नियमित सेवन आपकी पाचन क्रिया को भी दुरुस्त रखता है ।इसलिए कब्ज के रोगी को मेथी दाना चूर्ण जरूर इस्तेमाल करना चाहिए |

8. अमरुद का सेवन फायदेमंद

अमरूद का फल औषधीय गुणों से भरपूर होता है ।अगर आप कब्ज की समस्या में किसी भी प्रकार की दवाई नहीं लेना चाहते तो आपके लिए अमरुद का सेवन बहुत असरदार साबित हो सकता है । अमरुद को आप सुबह ,दोपहर या रात्रि काल किसी भी समय खा सकते हैं । अमरुद का सेवन आपकी कब्ज की समस्या को दूर रखने के साथ साथ आपको त्वचा रोगों से बचा कर उसका सौंदर्य बनाए रखता है ।अमरुद के फल को आयुर्वेद में पेट की बीमारियों के लिए काफी फायदेमंद बताया गया है ।

9. योग और प्राणायाम भी है लाभकारी

अगर आप अपने शरीर को स्वस्थ और कब्ज जैसी पीड़ादायक बीमारियों से मुक्त रखना चाहते हैं तो आपको व्यायाम और योग को दिनचर्या में सबसे जरूरी स्थान देना चाहिए ।रोजाना व्यायाम करने से आपकी पाचन शक्ति भी ठीक रहेगी और शरीर पेट की हर बीमारी से बचा रहेगा ।

10. पालक की सब्जी का करें इस्तेमाल

पालक के अंदर ऐसे बहुत खनिज पदार्थ पाए जाते हैं  जो आपकी पाचन शक्ति को दुरुस्त रखने के साथ साथ शरीर को बीमारियों से लड़ने में सक्षम बनाते हैं ।अगर आप पालक के रस का नियमित रूप से सेवन करते हैं तो आप कब्ज और पेट की हर बीमारी से बचे रहते हैं ।पालक का सेवन आप सब्जी बनाकर भी कर सकते हैं परन्तु पथरी के रोगियों के लिए पालक का सेवन वर्जित माना गया है ।

Leave a Reply